बीजेपी की समाज में बंटवारा करने की साजिशें, समाजवादी सोच एक मात्र राजनीतिक विकल्प : अखिलेश यादव





Samajwadi Party
समजवादी पार्टी  के राष्ट्रिय अध्यक्ष श्री अखिलेश यादय 




समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं पूर्व मुख्यमंत्री श्री अखिलेश यादव ने कहा है कि हमारे सामने बड़ी लड़ाई है। उत्तर प्रदेश में दो लोकसभा के उपचुनाव भी हैं। हमें इन्हें हरहाल में जीतना है। फिर सन् 2019 में लोकसभा चुनाव और सन् 2022 में विधानसभा चुनाव है। हमारी लड़ाई भाजपा से है और समाजवादी ही उन्हें चुनौती देने की ताकत रखते है। भाजपा ने प्रदेश का विकास रोक दिया है। सबका साथ सबका विकास के नाम पर धोखे की राजनीति हो रही है। भाजपाई ‘ओपियम‘ से जनता को बहकाने की कोशिशें करेंगे। हमें भाजपा से सावधान रहना होगा।






श्री अखिलेश यादव आज यहां पार्टी मुख्यालय में समाजवादी नेता तथा पूर्व सांसद श्री मोहन सिंह की चैथी पुण्यतिथि पर उनके चित्र पर माल्यार्पण के बाद श्रद्धांजलि सभा को सम्बोधित कर रहे थे। इस अवसर पर स्व0 मोहन सिंह की पुत्री एवं सांसद श्रीमती कनक लता सिंह, राष्ट्रीय उपाध्यक्ष श्री किरनमय नंदा, नेता प्रतिपक्ष विधानसभा श्री राम गोविन्द चौधरी, पूर्व विधानसभा अध्यक्ष श्री माता प्रसाद पाण्डेय, नेता विधान परिषद श्री अहमद हसन, प्रदेश अध्यक्ष श्री नरेश उत्तम पटेल, पूर्वमंत्री श्री राजेंद्र चौधरी एवं श्री बलवंत सिंह रामूवालिया, पूर्व सांसद श्री रामजी लाल सुमन, तथा श्री एसआरएस यादव एवं श्री अरविन्द कुमार सिंह (एम.एल.सी.) भी मौजूद थे।







श्री यादव ने कहा कि वर्तमान परिस्थितियां जटिल हैं। बीजेपी द्वारा समाज में बंटवारा करने की साजिशें हो रही हैं। सामाजिक सद्भाव विगाड़ने की कोशिश है। किसान, नौजवान, महिला एवं गरीब किसी के साथ न्याय नहीं हो रहा है। समाजवादी सोच और आन्दोलन ही आज की स्थितियों में एक मात्र राजनीतिक विकल्प है। लोहिया, जेपी, और जनेश्वर मिश्र, मोहन सिंह की यादें हमारे साथ हैं। इसलिए हमें जहां समाजवादी विचारधारा को मजबूत करना है। वहीं नकली समाजवादियों से भी सावधान रहना होगा। लोकतंत्र में जनता को सावधान करने की जिम्मेदारी भी उठानी होती है।









पूर्व मुख्यमंत्री श्री यादव ने कहा कि केन्द्र की भाजपा सरकार ने नोटबंदी और जी एस टी  से अर्थव्यवस्था को चैपट कर दिया है। स्टैण्ड अप इण्डिया और न्यू इण्डिया का नारा हवाई निकला है। अगर न्यू इण्डिया है तो भारत क्यों पिछड़ रहा है? लोगों को न तो रोजगार मिला है और नहीं कारोबार बढ़ा है। अब तक इस दिशा में कुछ भी नहीं हुआ है। वित्तीय  कुप्रबंधन के चलते जीडीपी में भारी व तेजी से गिरावट आ गई है। उन्होंने कहा छह माह में ही उत्तर प्रदेश तो विकास की दौड़ में बहुत पिछड़ गया है। यहां बड़े पैमाने पर हत्याएं हो रही हैं। पूर्वांचल में जापानी बुखार से हजारों बच्चों की मौतों की जांच होनी चाहिए। गोरखपुर में बच्चों पोस्टमार्टम नहीं कराया गया और नहीं पीड़ित परिवारों की सरकार ने मदद की।







श्री यादव ने कहा कि हमने साबरमती नदी से बेहतर और सुन्दर गोमती रिवर फ्रंट बनाया, इससे चिढ़कर भाजपा सरकार जांच की बात कर रही है। हमने हेल्थ इन्फार्मेशन सेंटर बनाया उसे बंद कर दिया गया। गरीब महिलाएं समाजवादी पेंशन से वंचित हो गई है। 100 नं0 पुलिस डायल की व्यवस्था की प्रशंसा विदेशों में भी हुई। 108 और 102 नं0 एम्बुलेंस सेवाएं भी बंदी के कगार पर हैं। उन्होंने कहा मैं जादू-मंत्र नहीं जानता लेकिन विकास करना जानता हॅू और 23 माह में लखऊ-आगरा एक्सप्रेस-वे बना सकता हैं। भाजपाई जादू टोना जानते हैं। मैं उस रास्ते पर नहीं जा सकता हॅू। समाजवादी सरकार बनने पर हम फिर उत्तर प्रदेश का विकास करेंगे।





समाजवादी पार्टी के मुख्य प्रवक्ता श्री राजेंद्र चौधरी ने बताया कि इस कार्यक्रम में सांसद श्री शैलेन्द्र, नितिन अग्रवाल, श्री रामआसरे विश्वकर्मा, श्री रामआसरे कुशवाहा, विधायकगण सुनील साजन, आनन्द भदौरिया, डा0 राजपाल कश्यप एवं रामवृक्ष यादव तथा जरीना उस्मानी, गीता सिंह, विकास यादव, अतुल प्रधान, उदयवीर सिंह, डा0 उस्मानी आदि की उपस्थिति उल्लेखनीय रही।





0/Post a Comment/Comments

Thanks For Visiting and Read Blog

Stay Conneted