नरेला में महिला से हुई दरिंदगी को लेकर मुख्यमंत्री केजरीवाल और 'आप' महिला संगठन ने LG से किया मुलाकात


DCW स्वाति मालीवाल , सीएम अरविन्द केजरीवाल , एलजी अनिल बैजल , रिचा पांडे मिश्रा 

नरेला में जिस तरह से दिल्ली महिला आयोग की एक वॉलिंटियर के साथ कुछ शराब माफ़ियाओं ने दरिंदगी की है उसे दिल्ली पुलिस की नाकामियों की पोल खुल गयी है। दिल्ली के मुख्यमंत्री और आम आदमी पार्टी के राष्ट्रीय संयोजक अरविंद केजरीवाल ने एलएनजेपी अस्पताल में जाकर पीड़ित महिला से मुलाक़ात की और उन्हें यह भरोसा दिया कि उनकी लड़ाई को ना केवल दिल्ली सरकार और आम आदमी पार्टी लड़ेंगी बल्कि दिल्ली की सारी जनता उनकी इस लड़ाई को लड़ेंगे।




मुख्यमंत्री केजरीवाल ने इस मामले को लेकर लेफ्टिनेंट गवर्नर श्री अनिल बैजल से शुक्रवार को मुलाकात किया।  अपराधियों पर सख्त कार्यवाही की मांग किया। उन्होंने बताया की गवर्नर साहब ने आश्वासन दिया है की इस मामले में जल्द से जल्द और सख्त कार्यवाही करेंगे। 


आम आदमी पार्टी दिल्ली प्रदेश के महिला संगठन की कार्यकर्ताओं ने  भी नरेला मामले को लेकर शुक्रवार को उपराज्यपाल महोदय से मुलाक़ात की। महिला संगठन के प्रतिनिधिमंडल में महिला संगठन दिल्ली प्रदेश की अध्यक्ष रिचा पांडे मिश्रा और अन्य पदाधिकारी भी मौजूद रहे। महिला संगठन की सभी कार्यकर्ताओं ने दिल्ली में कमज़ोर महिला सुरक्षा और दिल्ली पुलिस की नाकामी को लेकर पैदल ही उपराज्यपाल आवास की तरफ़ मार्च किया।



'आप ' पार्टी के दिल्ली महिला संगठन की अध्यक्ष रिचा पांडे मिश्रा ने कहा कि ‘हमने दिल्ली के उपराज्यपाल महोदय से मिलकर  दिल्ली पुलिस की नाकामी, नरेला में लोकल पुलिस और वहां के नशे माफ़ियाओं के बीच का नेक्सस और महिला सुरक्षा के बारे में बात की और उनसे अनुरोध किया कि वो इस दिशा में सख्त कार्रवाई करें।


हमने उपराज्यपाल महोदय को इस बात की जानकारी दी कि नरेला मामले में लोकल पुलिस जिन आरोपियों को गिरफ्तार करने का दावा कर रही है दरअसल वो गिरफ्तारी काफ़ी नहीं है, असल अपराधी (नशा और शराब माफ़िया) अभी भी पुलिस की पहुंच से दूर हैं।  हक़ीकत यह है कि लोकल पुलिस और उन शराब माफ़ियाओं के बीच एक नेक्सस है जिसे तोड़ना होगा, ना केवल लोकल पुलिस पर कार्रवाई की जाए बल्कि जल्द से जल्द असल अपराधियों को गिरफ्तार किया जाए।



आपको बता दें कि बाहरी दिल्ली के नरेला इलाक़े में दिल्ली महिला आयोग की उस महिला वॉलिंटियर ने अपनी कॉलोनी में हो रहे अवैध शराब और नशे के धंधे के ख़िलाफ़ आवाज़ उठाई थी और महिला आयोग को शिकायत कर वहां छापा करवाया था। जिसमें काफ़ी मात्रा में वहां शराब पकड़ी गई थी। इसके बाद उन शराब और नशा माफ़ियाओं ने उस शिकायतकर्ता महिला को बड़ी बुरी तरह से पीटा था और उसके साथ अमानवीय ब्यवहार किया थी। 

0/Post a Comment/Comments

Thanks For Visiting and Read Blog

Stay Conneted