News Ticker

Menu

पंजाब नेशनल बैंक का एक और घोटाला, इस बार मुद्रा लोन घोटाला : रवीश कुमार



PNB Mudra Scam
वरिष्ठ पत्रकार रवीश कुमार और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी
वरिष्ठ पत्रकार श्री रवीश कुमार ने अपने फेसबुक पेज पर लिखा है कि राजस्थान के बाड़मेर ब्रांच में एक फ्राड हुआ है जिसके बारे में सीबीआई ने केस दर्ज किया है। आरोप है कि वरिष्ठ ब्रांच मैनेजर ने 26 मुद्रा लोन के आवंटन में फ्राड किया है। 62 लाख रुपये का लोन ग़लत तरीके से दिया गया है। आरोप है कि मुद्रा लोन देने से पहले बैंक ने पूछताछ और जांच की प्रक्रिया पूरी नहीं की।



बैंकों के कई कर्मचारियों ने मुझे बताया है कि मुद्रा लोन के बंटवारे में बड़े पैमाने पर धांधली हुई है। सरकार अपने विज्ञापनों में आंकड़े बता सके इसलिए मैनेजरों को मजबूर किया गया है कि वे जल्दी जल्दी मुद्रा लोन दें। उन्हें लोन के बंटवारे का टारगेट दिया गया। एक बैंकर ने बताया कि कई खाताधारकों को पता भी नहीं होगा, उनके नाम भी मुद्रा लोन धारकों में गिना जा चुका है। हम सब बैंकिंग की प्रक्रिया को समझ नहीं पाते हैं इसलिए लिखने में भी सावधानी बरतनी पड़ती है।

मगर कई बैंकरों से बात कर समझ आ गया कि मुद्रा लोन के बंटवारे को लेकर सरकार जो दावे कर रही है वो सही नहीं है। किस बैंक के चेयरमैन में हिम्मत है कि सही बात बोल दे। यही नहीं कुछ बैंकरों ने तो यह भी बताया कि उन्हें अटल पेंशन योजना का टारगेट दे दिया गया। ग़रीब आदमी वो भी लेने में सक्षम नहीं है लिहाज़ा बैंकरों से कहा गया कि वे अपने नाम या परिवार के नाम अटल पेंशन योजना ख़रीदें और बीमा भरें। यह सब इसलिए ताकि ऊपर के स्तर पर आंकड़ा बड़ा दिखे और दावे के साथ बोला जा सके कि इतने करोड़ लोगों को मुद्रा लोन दिया गया और इतने करोड़ लोगों को अटल पेंशन योजना के तहत बीमा दिया गया।



आपके संपर्क में जो बैंकर हैं, उनसे इन बातों की जांच कर सकते हैं। कोई साहसी और निष्पक्ष संस्था तो है नहीं वरना मुद्रा लोन और अटल पेंशन योजना की सही से ऑडिट हो जाती तो पोल खुल जाता। ज़रूरी नहीं है कि जो रिकार्ड पर कहा जाए वही सही हो, आप ख़ुद से भी पता कर सरकारी दावों पर चुपचाप मुस्कुरा सकते हैं। आपको यह भी पता चलेगा कि यह घोटाला बैंकरों से कराया गया है। उन्हें मजबूर किया गया है कि वे पालिसी बेचें या किसी को लोन दें।

Share This:

Daily Window

We have every right to tell the truth in our way. It can have different colors, different languages and democratic . But we as the citizens have every right to know the truth. We either read or listen paid news in different forms or we as reader or viewer is the victim of private treaties done by corporate media.

1 comment to ''पंजाब नेशनल बैंक का एक और घोटाला, इस बार मुद्रा लोन घोटाला : रवीश कुमार "

ADD COMMENT
  1. Aisi hi loot ab fir se chalu ho gai hai is loot ki yojna ka naam hai pradhanmantri swast vima yojna.
    Isme gareebo k account se 1500 se leke 2300 rs yearly kaate ja rahe hai wo b kote debit voucher or kore policy form pr signature kara kr

    ReplyDelete

Thanks For Visiting and Read Blog

  • To add an Emoticons Show Icons