दिल्ली के मेनुफेक्चरिंग ब्रांड को पोर्टल के जरिये दुनिया को बताएगी केजरीवाल सरकार

दिल्ली के मेनुफेक्चरिंग ब्रांड को पोर्टल के जरिये दुनिया को बताएगी केजरीवाल सरकार
Arvind Kejriwal CM of Delhi


नई दिल्ली : दिल्ली के व्यापारियों के लिए दिल्ली सरकार ऑनलाइन पोर्टल ‘दिल्ली बाजार’ लांच करेगी। दिल्ली के बाजारों को ऑनलाइन लांच करने से पूरी दुनिया जान सकेगी कि दिल्ली के में क्या ब्रांड बनता या बिकता है। दिल्ली के बाजारों का ऑनलाइन वैश्वीकरण करने की इस मुहिम में दिल्ली के थोक बाजार और वहां के व्यवसायी भी शामिल होंगे।




दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने रविवार को व्यापारियों की एक बैठक में कहा, ‘दिल्ली में होलसेल के बहुत से बाजार हैं। उनका हम एक पोर्टल बनाएंगे और उस पोर्टल में जिस-जिस मार्केट में जो-जो दुकानें हैं, वहां क्या सामान मिलता है इसकी जानकारी पोर्टल पर दी जाए। किस औद्योगिक क्षेत्र में क्या-क्या बनाया जाता है, इसकी जानकारी पोर्टल में दी जाए। ऐसा करने पर यह चीजें पूरी दुनिया के सामने आएंगी। इसकी वजह से पूरे विश्व के लोग दिल्ली में बन रहे इन उत्पादों के बारे में जान सकेंगे और दिल्ली के व्यापारियों को पूरे विश्व से ऑर्डर मिलेंगे। दिल्ली के व्यवसायी इस पोर्टल के माध्यम से विश्वभर में संवाद स्थापित कर सकते हैं।’




होटल और मार्किट खोलने के बाद केजरीवाल बोले, अब दिल्ली मेट्रो भी शुरू करे

 बाकी बाजारों को भी चांदनी चौक की तर्ज पर बनाएगी सरकार 


मुख्यमंत्री ने कहा कि यह बहुत अच्छा आइडिया है। मुझे किसी ने कहा है इसे दिल्ली बाजार का नाम दे सकते हैं। दिल्ली का बाजार एक पोर्टल पर आ जाएगा और और पूरी दुनिया के लोग इस बाजार को देख सकेंगे। दिल्ली के मार्केट अंतरराष्ट्रीय मानकों के होने चाहिए। हमने चांदनी चौक का ट्रायल आधार पर पुनर्विकास किया है। इसी तर्ज पर बाकी मार्केट और दिल्ली की सभी सड़कों को भी खूबरसूरत बनाएंगे।


दिल्ली सरकार का कहना है कि दिल्ली की अर्थव्यवस्था को गति देने के लिए दिल्ली सरकार ने डीजल के दाम कम किए और रोजगार बाजार पोर्टल शुरू करने के साथ कई सारे कदम उठाए है। इस मौके पर आम आदमी पार्टी के ट्रेड विंग के कन्वीनर बृजेश गोयल ने बताया कि आज की मीटिंग में दिल्ली के तमाम बड़े बाजार चांदनी चैक, सदर बाजार, चावड़ी बाजार, खारी बावली, कश्मीरी गेट, करोल बाग, कनॉट प्लेस, लाजपत नगर, खान मार्केट, साउथ एक्स, सरोजिनी नगर, लक्ष्मी नगर, गांधीनगर, राजौरी गार्डन आदि बाजारों के प्रतिनिधि शामिल हुए।




मुख्यमंत्री ने व्यापारियों से मांगे सुझाव


इसके अलावा होटल, रेस्टोरेंट, बैंक्विट, ट्रांसपोर्ट व सैलून पार्लर आदि के साथ बड़ी संख्या में महिला कारोबारी भी उपस्थित रहीं। मीटिंग में बड़ी संख्या में व्यापारियों ने अपने सुझाव दिए, जो व्यापारी समय के अभाव के कारण आज अपनी बात नहीं रख पाए, उनसे भी सुझाव मांगे गए हैं और अगले कुछ दिनों में दिल्ली के हर एक मार्केट और अलग-अलग सेक्टर के व्यापारियों से भी सुझाव आएंगे।


नेताओं की चिट्ठी में बदलाव की मांग, सोनिया बोलीं कांग्रेस चुने नया अध्यक्ष

0/Post a Comment/Comments

Thanks For Visiting and Read Blog

Stay Conneted