ICAI को CA की परीक्षा की क्यो पड़ी है, कोविड की चिन्ता क्यों नहीं - रवीश कुमार



ICAI चारटर्ड अकाउंटेंट की संस्था है। इस संस्था की हाल देखिए कि आठ महीने में CA का इम्तहान ऑनलाइन कराने का बंदोबस्त नहीं कर सकी है। अब इसने परीक्षा का ऐसा कैलेंडर निकाला है जो कई दिनों तक चलेगा। ऐसा नहीं कि एक घंटे की परीक्षा दी और ख़त्म। छात्रों को बार बार उसी सेंटर में आना होगा। 



एक तरफ़ अहमदाबाद में कर्फ़्यू लगने जा रहा है क्योंकि कोविड का प्रसार नियंत्रित हो सके और यहाँ है कि परीक्षा हो रही है। छात्रों की बात सही है कि साढ़े चार लाख छात्र अगर परीक्षा के दौरान संक्रमित हो गए तो उनकी परीक्षा और सेहत का क्या होगा? छात्र कोई दिनों से ट्विटर पर लिख रहे हैं मगर किसी को तो ध्यान देना चाहिए। 


यह भी पढ़े - TRP को अपने हित में समझिए न कि चैनलों के युद्ध के हित में - रवीश कुमार


क़ायदे से गृह मंत्रालय को ऐसी परीक्षा की तैयारी की ऑडिट करानी चाहिए। कैसे अनुमति दी गई है? और अगर चार्टर्ड अकाउंटेंट की संस्था ऑनलाइन इम्तहान का इंतज़ाम नहीं कर सकती तो फिर डिजिटल इंडिया का क्या मतलब रह जाएगा? 



इसलिए संस्था अपने बेतुके फ़ैसले पर विचार करे और परीक्षा का कैलेंडर आगे बढ़ाए।


यह भी पढ़े -भारत बंद करने जा रहे किसान भाइयों और बहनों को रवीश कुमार का पत्र

0/Post a Comment/Comments

Thanks For Visiting and Read Blog

Stay Conneted