जनता पैसे पैसे को तरस रही और नेताओ के पास बरामद हो रहे करोडों

जनता पैसे पैसे  को तरस रही और नेताओ के पास बरामद हो रहे करोडों 





पुरे देश में लोग पैसों के लिए तड़प रहे हैं तो कहीं पैसों की वजह से लोगों की जानें जा रही हैं। आम जनता दो-दो हजार के लिए लाइन में लग रही है, वहीं बीजेपी नेताओं के पास लाखों रुपए के नए नोट बरामद हो रहे हैं। आखिर माजरा क्या है


देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कालाधन और भ्रष्टाचार की बात कहकर 8 नवंबर 2016 को अचानक देश से 500 और 1000 के नोट बंद कर दिए, जिसके बाद से ही देश में कोहराम मचा हुआ है। बैंक कह रहे हैं उनके पास नकदी नहीं है, एटीएम बंद पड़े हैं लेकिन इन सबके बीच एक चीज जो सबसे ज्यादा चौकाने वाली है, वह है नोटबंदी के बाद देश के कई इलाकों में बीजेपी के नेताओं से करोड़ों के नए नोटों का बरामद होना है, ते क्या बैंकों और एटीएमों में नकदी इस लिए नहीं है कि बीजेपी नेताओं के पास नोटबंदी के पहले ही दो-दो हजार के गुलाबी नोट पहुंचा दिए गए हैं

पश्चिम बंगाल में भाजपा के पूर्व नेता नेता 10 लाख रुपए के साथ गिरफ्तार, 2 हजार के नए नोट में थी रकम।  शर्मा भाजपा के टिकट पर रानीगंज से विधानसभा चुनाव लड़ चुके हैं।चुनाव में 18 फीसदी वोट पाकर वह तीसरे स्थान पर रहे थे। 

नोटबंदी के बाद से भाजपा नेताओं के पास से नए नोट में भारी नगद बरामद हो रहा है । कुछ नेताओं के पास नोटबंदी के पहले ही नए नोट आ गए थे । वहीं भाजपा के कई नेताओं ने नोटबंदी के पहले ही भारी मात्रा में जमीन खरीद के अपना कालाधन ठिकाने लगा लिया था । 
 इसी बीच अब खबर आ रही है कि भाजपा विधायक सुधीर गड़गिल की बोलेरो कार से 20 हजार करोड़ के नए नोट बरामद हुए है । हिंदी न्यूज़ पोर्टल assam123.com के अनुसार भाजपा विधायक के पास से बरामद यह रकम 2000 के नोटों के रूप में थी हालाँकि इस खबर की आधिकारिक पुष्टि नही की गई है




इसी क्रम में आईटी ने 70 करोड़ के नए नोट के साथ-साथ सौ किलो सोना भी बरामद किया है। इसके साथ ही आईटी ने मनी एक्सचेंज रैकेट का भंडाफोड़ किया है। नोटबंदी के बाद कालाधन रखने वाले पैसा सफेद करने के चक्कर में तरह-तरह के हथकंडे अपना रहे हैं। इसीके तहत चेन्नई में ये कार्रवाई की गई है।


अब तक जहां भी भारी मात्रा में नए नोट बरामद किये गये या कालाधन को नए नोट के रूप में सफेद करने की बात आयी वहां बीजेपी का नाम भी आया एक तरफ तो बीजेपी कालाधन की बात करती है वहीं दूसरी तरफ नोटबंदी के बाद से बीजेपी के नेताओं और बड़े कारपोरेट के पास से ही नए नोट बरामद हो रहे हैं। इसके बाद सवाल उठता है कि बीजेपी के पास इतनी ज्यादा मात्रा में नए नोट कहां से आ गए

2/Post a Comment/Comments

Thanks For Visiting and Read Blog

Post a Comment

Thanks For Visiting and Read Blog

Stay Conneted